पद्मनाभस्वामी मंदिर के सातवें द्वार का रहस्य-

पद्मनाभस्वामी मंदिर केरल में स्थित है। इस मंदिर के तहखाना कुछ साल से चर्चा में बना हुआ है।

 पद्मनाभस्वामी मंदिर के तहखाने को खोलने की कोशिश साल 1931 से शुरू हो गई थी।

इसके बाद साल 2011 में सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर पद्मनाभस्वामी मंदिर के तहखाने को फिर से खोलने की कोशिश की गई उस समय पद्मनाभस्वामी मंदिर के 6 तहखाने को ढूंढा गया ।

इनको A,B,C,D,E,F नाम दिया गया, इसके कुछ समय बाद 2 और तहखाने ढूंढे गए, जिनका नाम G और H रखा गया।

इस मंदिर के B तहखाने को छोड़कर बाकी सारे तहखाने खोले गए, जिस में से सोने की मूर्तियां,  गहने व इसके साथ कई अन्य कीमती चीजें मिली। जिनकी कीमत तीन लाख करोड़ थी। इसके साथ ही पद्मनाभस्वामी मंदिर के B तहखाना के दरवाजे पर कोबरा बना हुआ था,  उसे नहीं खोला जा सका।

क्योंकि इस तहखाने के लोहे के दरवाजे को खोलाने के बाद इसके अंदर एक लकड़ी का दरवाजा निकला। जब लकड़ी के दरवाजे को तोड़कर खोला गया तो, उसके अंदर फिर से एक और लोहे का भारी दरवाजा था जिसे खोला नहीं जा सका।

पद्मनाभस्वामी मंदिर के इस तहखाने के लिए साधुओं का मानना था की इसके दरवाजे पर ‘नाग बंधम’ लगाया गया है। इसे शक्तिशाली मंत्रों से बंद किया गया है जिसे कोई सिद्ध पुरुष ही खोल सकता हैं, जो इन मंत्रों की जानकारी रखता है।

 

 

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x