पीएम मोदी ने विराट भगवद गीता का किया विमोचन, दिया दुस्ट आत्माओं और असुरों को संदेश-

नई दिल्ली,   

पुलवामा आतंकी हमले के बदले के बाद भारत में जश्न का माहौल है। पूरा देश भारतीय सेना के शौर्य और पराक्रम पर गर्व महसूस कर रहा है। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली के इस्कॉन मंदिर में पूजा अर्चना की। प्रधानमंत्री मोदी दिल्ली के खान मार्केट मेट्रो स्टेशन से इस्कॉन मंदिर पहुंचे।

इस दौरान मेट्रो में पीएम मोदी से मिलने वालों की भीड़ उमड़ गई। पीएम मोदी के साथ सेल्फी लेने वालों की होड़ लग गई। एक के बाद एक लोगों ने पीएम के साथ सेल्फी ली और बातचीत की। समाचार एजेंसी ने वीडियो जारी किया है उसमें पीएम मोदी बच्चों के साथ दुलार प्यार करते नजर आ रहे हैं।

इस्कॉन मंदिर में पीएम मोदी ने दुनिया की सबसे बड़ी श्रीमद् भगवद गीता का अनावरण किया। इस पवित्र ग्रंथ का वजन 800 किलो ग्राम है। श्रीमद् भागवद गीता के विमोचन करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गीता आराधना महोत्सव को संबोधित करते हुए कहा कि आज का दिन बड़ा अहम है।

गीता भारत की ओर से दुनिया का सबसे बड़ा उपहार है। पूरी दुनिया के लिए यह धरोहर है। उन्होंने कहा कि गीता के संदेश का प्रभाव विद्वानों की चर्चा तक सीमित नहीं है। गीता के संदेश आचार विचार में भी देखने को मिलते हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि गीता का उल्लेख करते हुए कहा कि प्रभु जब कहते हैं कि क्यों व्यर्थ चिंता करते हो, किससे डरते हो, कौन तुम्हें मार सकता है। तुम क्या लेकर आए थे और क्या लेकर जाओगे। तो खुद को राष्ट्र सेवा में समर्पित करने की प्रेरणा अपने आप मिल जाती है ।

पीएम मोदी ने आतंकी संगठनों पर हुई कार्रवाई पर भी कहा कि मानवता के दुश्मनों से धरती को बचाने के लिए प्रभु की शक्ति हमारे साथ हमेशा रहती है। उन्होंने कहा कि यही संदेश हम पूरी प्रामाणिकता के साथ दुष्ट आत्माओं, असुरों को देने का प्रयास कर रहे हैं।

बता दें कि इस्कॉन मंदिर में गीता अराधना महोत्सव का आयोजन किया गया है। इस आयोजन में बड़ी संख्या में देसी और विदेशी श्रद्धालु मौजूद हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *