5 बिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था के लिए पर्यटन मुख्य हथियार

सच की दस्तक डिजिटल डेस्क चन्दौली

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत 5बिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था की चाहत रखता है। और इसके लिए पर्यटन मुख्य भूमिका अदा कर सकता है। बाबा विश्वनाथ की नगरी काशी को नई तकनीक से विकसित किया जा रहा है। पर्यटन क्षेत्र में रोजगार के बहुत अवसर पैदा हो रहे हैं। जिसके कारण काफी संख्याओं में युवाओं को रोजगार मिल रहा है। अयोध्या में भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर बने इसके लिए ट्रस्ट बना दिए गए हैं। योजना के तहत अधिकृत की गई 63एकड़ की जमीन भी मंदिर निर्माण के लिए दे दी जाएगी। जिससे भव्य राम मंदिर का निर्माण जल्द से जल्द हो सके। इसके अलावा काशी में काशी विश्वनाथ धाम का तेजी से विकास किया जा रहा है। वह समय दूर नहीं जब यह दिव्य प्रांगण मुख्य आकर्षण की केंद्र बिंदु बनेगी। जिससे विश्व के कोने, कोने से लोग आ सकेंगे। उक्त बातें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पड़ाव पर एक सभा को संबोधित करते हुए कहा।

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि वाराणसी एक मेडिकल हब बन गया है जिन बीमारियों के इलाज के लिए दूर जाना पड़ता था वह यही मिल रहा है। बीएचयू में कैंसर जैसी बीमारी के इलाज के लिए 430बेड का अत्याधुनिक अस्पताल बनाया गया है। इसके अलावा सुपर फैसिलिटी कबीर चौरा अस्पताल को भी दी जा रही है। पूर्वांचल में भी मेडिकल कॉलेजां की सौगात दी जा चुकी है। मोदी ने कहा कि 50करोड़ लोगों को आयुष्मान योजना का लाभ मिल रहा है। 2से 3वर्षों में शुद्ध पानी उपलब्ध कराने में भी सफलता मिली है। यह सब महादेव की इच्छा के कारण ही हो रहा है। वर्तमान में भी वाराणसी में 25हजार करोड़ रूपये से विकास कार्य चल रहे हैं। मेक इन इंडिया के तर्ज पे आज देश में रोजगार का कार्य किया जा रहा है। इस बजट में इसलिए इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए 10लाख हजार करोड़ खर्च करने की योजना है। इसी तरह 2करोड़ आवास भी दिए गए है। मुद्रा योजना के अंतर्गत 3500करोड़ का लोन हुआ है। वाराणसी में लगभग 16000साथियां को इलाज का लाभ मिला है। पौने दो लाख परिवारों को उज्वला का लाभ मिला है।

श्री मोदी ने कहा कि 2करोड़ किसानों को 12हजार करोड़ स्थान्तरित हुआ। मेरी सरकार अन्त्योदय के प्रणेता पं दीन दयाल उपाध्याय की मंशा के अनरूप समाज के आखरी पंक्ति में खड़े व्यक्ति के लिए काम कर रही है। 70सालों बाद ऐसी सरकार आई है जो निर्णय लेने में दृढ़ संकल्पित है। जम्मू कश्मीर से 370धारा को हटाया इसके अलावा वर्तमान समय की जरूरत के हिसाब से सीएए को लागू किया गया।

इसके पूर्व प्रधानमंत्री द्वारा 35परियोजनाओं का लोकार्पण किया गया। साथ ही पं दीनदयाल उपाध्याय के 63फीट ऊंची प्रतिमा का अनावरण किया। कार्यक्रम में तेजस एक्सप्रेस की तर्ज पर वाराणसी से उज्जैन तक महाकाल के दर्शन के लिए ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ योगी, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, केंद्रीय कौशल विकास मंत्री व चन्दौली के सांसद डॉ महेन्द्र नाथ पाण्डेय सहित प्रदेश के कई मंत्री व विधायक मौजूद रहे। स्वागत डॉ महेंद्र नाथ पांडे ने किया।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x