सुक्ष्मलघु उद्यमी तथा ग्रामीण क्षेत्र का विकास करती एक सोच-

वाराणसी, 

एक सोच सैंडबॉक्स देशपांडे फाउंडेशन द्वारा वार्षिक कार्यक्रम गोपाल त्रिपाठी सभागार में सफलतापूर्वक आयोजित हुआ। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पद्मा श्री डॉ• रजनी कांत रहे जिन्हे संस्था द्वारा शाल एवं प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।

विशिष्ट अतिथि में डॉ• रमेश चन्द (निदेशक कृषि विज्ञान संस्थान), डॉ• वी• के• चंडोला (ईंचार्ज टीपीओ कृषि विज्ञान संस्थान), डॉ• पी• के• मिश्रा (आईआईटी, बीएचयू), अनीश सिन्हा (क्षेत्रीय प्रबंधक काशी गोमती संयुक्त ग्रामीण बैंक), नितेश धवन (सहायक निदेशक, हथकरघा विभाग), अब्दुल्लाह (सहायक निदेशक, हस्तशिल्प विभाग), ओ• पी• पटेल, सहायक निदेशक, एमएसएमई) रहे जिन्हे प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।

सभी आगंतुकों ने युवाओं, कृषकों तथा हस्तशिल्प कारीगरों को संबोधित करते हुए संस्थान के कार्यों की सराहना की। इन क्षेत्रों में आ रही दिक्कतों पर प्रकाश डालते हुए संभावित सुझाव दिए।

संस्था की ओर से लीड के अन्तर्गत सराहनीय परियोजनाओं को करने वाले युवाओं तथा नवोद्दमी द्वारा कुशल उद्यमियों को सम्मानित किया गया। नवोद्यमी कार्यक्रम सूक्षम एवं लघु उद्यमियों एवं हस्तशिल्प कारीगरों को उनके व्यापार को बढ़ाने हेतु परामर्श, प्रशिक्षण, वित्तीय एवं विपणन की सहायता प्रदान करता है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता एक सोच सैंडबॉक्स के निदेशक अजय सुमन शुक्ल अपने साथी प्रशांत, राज शेखर, राहुल, अभिजीत, शेफाली एवं समस्त टीम के साथ कार्यक्रम दौरान सक्रिय रहे।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x