बाबा कीनाराम अघोर शोध एवं सेवा संस्थान,सर्वेश्वरी समूह द्वारा तीन हजार भोजन का पैकेट का हुआ वितरण

सच की दस्तक डेस्क वाराणसी

अघोराचार्य बाबा कीनाराम अघोर शोध एवं सेवा संस्थान,सर्वेश्वरी समूह व अघोर सेवा मंडल के अध्यक्ष पीठाधीश्वर बाबा सिद्धार्थ गौतम राम जी के निर्देशन में वैश्विक महामारी कोरोनॉ वायरस से बचाव के लिए लागू लॉकडाउन के दौरान नगर में फंसे गरीब, मजदूर,भूखे असहाय लोगों को 24 मार्च,2020 से लगातार लगभग 3000 पैकेट भोजन प्रतिदिन वितरण किया जा रहा है । जिला प्रशासन के सहयोग से अब तक लाखों पैकेट भोजन प्रसाद रूप कीनाराम आश्रम में तैयार कर जरुरतमंद लोगो में वितरित कराया गया है।
इसी क्रम में आज मंगलवार को बाबा कीनाराम अघोर शोध एवं सेवा संस्थान क्रीं कुण्ड शिवाला के सौजन्य से महिला मंडल एवं युवा मोर्चा के सदस्यों द्वारा काशी हिन्दू विश्वविद्यालय (BHU) के छात्रों के सहायतार्थ काशी हिंदू विश्वविद्यालय प्रशासन में रजिस्ट्रार डॉo नीरज त्रिपाठी एवं चीफ प्रॉक्टर प्रो.ओ.पी.राय के नेतृत्व में 150 लंच पैकेट का वितरण किया गया । इसके साथ ही आने वाले दिनों में तैयारी में उपयोग के लिए छात्रों को कच्चा राशन (तीन किलो आटा, दो किलो चावल,एक किलो दाल,एक किलो आलू और एक लीटर सरसों का तेल ) का वितरण भी किया गया । इस प्रकार कुल तीन कुंतल आटा, दो कुंतल चावल, एक कुंतल दाल एवं 150 लीटर सरसों का तेल आज वितरित किया गया ।
इसके पूर्व लॉक डाउन अवधि में अघोराचार्य कीनाराम संस्थान के सदस्यों द्वारा क्रमशः पड़ाव,डोमरी, सामनेघाट, लंका , अस्सी ,मांडुवाडीह, मंडौली और भेलूपुर इलाकों में गरीबों ,असहायों एवं जरूरतमंद लोगों को राशन, फूड पैकेट, फेस मास्क,आयुर्वेदिक औषधियां, सेनेटाइजर एवं साबुन का वितरण किया गया । अघोर शोध व सेवा संस्थान के सौजन्य से जरूरतमंदों को लगातार हर संभव मदद पहुंचने का क्रम जारी है । पीठाधीश्वर जी ने कहा है कि लॉकडाउन की परिस्थिति में सभी नागरिकों का नैतिक कर्तव्य है कि हम अपने आस पास निवास कर रहे गरीब एवं असहाय परिवारों की सहायता करें और विपदा पर नियंत्रण के लिए शासन द्वारा लागू लॉकडाउन का पूरी तरह से पालन करें ।
कोरोनॉ संक्रमण के इस काल में अपनी जान जोख़िम में डालकर सेवा में लगे चिकित्सकों, प्रशासनिक अधिकारी, पुलिस और सुरक्षा बल के जवान एवं सफाई कर्मियों का आभार व्यक्त करें जो समाज के लोगों की सेवा में तत्परता से लगे हुए है।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x