अद्वितीय नारी सम्मान – 2022 से सम्मानित हुई लक्ष्मी गुप्ता जी

जिला औरैया न्यूज –

सच की दस्तक राष्ट्रीय मासिक पत्रिका वाराणसी की प्रतिवर्ष की परम्परागत विश्व महिला दिवस की सप्ताहिक संध्या सम्मान मुहिम के परिप्रेक्ष्य में आज 5 मार्च 2022 को सच की दस्तक की न्यूज एडीटर आकांक्षा सक्सेना और जिला औरैया के ब्यूरोचीफ अक्षांशु कुमार ने उत्तर प्रदेश की प्रसिद्ध संस्था विचित्र पहल के जिला कार्यालय में स्वंय पहुंच कर ससम्मान, विचित्र पहल के संस्थापक आदरणीय डॉ आनंद नाथ गुप्ता जी, एडवोकेट और विचित्र पहल की तुलसी महिला शाखा की सम्मानित अध्यक्षा आदरणीय लक्ष्मी गुप्ता जी के महान उत्कृष्ट कार्यों हेतु विधिवत् सॉल उढ़ाकर अद्वितीय महिला सम्मान – 2022 से सम्मानित किया।

विचित्र पहल का नाम विचित्र पहल इसलिए है कि यह महान कतिपय व्यक्तिव सब मिलकल करते हैं श्मशानघाट की सफाई और…. इसके आगें की बातचीत बहुत ही दिलचस्प है तो वीडियो में फुल इंटरव्यू का इंतजार करें…. 

बता दें कि आदरणीय लक्ष्मी गुप्ता जी ने पूरे जिले में कोरोना जैसे भयावह काल से लेकर अनेकों मौकों पर जरूरतमंद महिलाओं, बच्चों के लिए अनगिनत मानवीय कार्य किये हैं जिनको लेखनीबद्ध करना बड़ा कठिन है क्योंकि अच्छाई और सच्चाई को कलमबद्ध करना अत्यंत दुरूह है। उनके कार्यों की सुवास और उनका कतिपय व्यक्तित्व ही कुछ ऐसा है जिसकी सुगंध से वाराणसी भी सुगंधित हो उठा और सच की दस्तक टीम वाराणसी ने उनको सम्मानित करने का निर्णय लिया और उनको राष्ट्रीय अद्वितीय महिला सम्मान से नवाजा जिसकी वह सचमुच हकदार हैं।

पाठकों! यह सम्मान सिर्फ़ डॉ. आनंद नाथ गुप्ता जी और लक्ष्मी गुप्ता जी का ही सम्मान नहीं वरन यह सम्पूर्ण औरैया जिले की, सम्पूर्ण भारत की और सम्पूर्ण विश्व की श्रेष्ठ महिलाओं और समस्त सामाजिक कार्यकर्ताओं का सम्मान है जो सचमुच जमीनी स्तर पर निस्वार्थ भाव से कार्य कर रहे हैं। 

आज पूरे जिले औरैया में विचित्र पहल के संस्थापक आदरणीय डॉ आनंद नाथ गुप्ता जी और मैडम लक्ष्मी गुप्ता जी को कौन नहीं जानता फिर भी उनके मुखमंडल पर अंहकार की एक भी लाईन भी नहीं दिखी।बस यही बात उनकी लोकप्रियता का कारण है।

विचित्र पहल की पीएम मोदी से विनम्र अपील

आपकी भारत के प्रधानमंत्री मा.नरेंद्र मोदी जी से विनम्र अपील है कि विश्व शांति की स्थापना हो,अंतर्राष्ट्रीय युद्धों पर अब विराम लगे। इसके अतिरिक्त विचित्र पहल के संस्थापक डॉ. आनंद जी ने कहा कि हमें अत्यधिक पेड़ लगाने चाहिये क्योंकि जब पेड़ नहीं होगें तो जीवन नहीं होगा और सरकारों को यह कोशिश करनी चाहिए कि हर जिले में इलेक्ट्रॉनिक शवगृह बने जिससे लकड़ी का दहन कम हो सके। इसके अलावा यमुना में गिरने वाले नालों पर भी सख्ती से प्रतिबंध लगे।

गौरतलब है कि विचित्र पहल की जितनी भी मुहिम हैं वो सब  सिर्फ़ जिले तक ही सीमित नहीं है। आदरणीय आनंद गुप्ता जी और आदरणीय लक्ष्मी गुप्ता जी राष्ट्रीय स्तर पर भी ख्याति प्राप्त सामाजिक कार्यकर्ता हैं। जिसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इस सामाजिक स्वंयसेवी संस्था की तारीफ़ स्वयं जिले औरैया के लोकप्रिय डीएम मान. सुनील कुमार वर्मा जी भी कई बार कर चुके हैं तदुपरांत विचित्र पहल संस्था के संस्थापक सहित पूरी टीम को औरैया रत्न से अलंकृत /सम्मानित कर चुके हैं।

कार्यक्रम के बाद विचित्र पहल टीम ने सच की दस्तक टीम को भी अविस्मरणीय स्मृति चिन्ह द्वारा सम्मानित किया। टीम सच की दस्तक आप सभी का सादर आभार व्यक्त करती है।कार्यक्रम में प्रमुख रूप से सभासद छैया त्रिपाठी,  मनीष पुरवार (हीरु), राकेश गुप्ता (बैंक वाले), रानू पोरवाल, सौरभ पोरवाल, जूनियर शाखा अनमोल के सक्रिय सदस्य अजय पोरवाल, भाजपा नेता दीपक सोनी, आनन्द गुप्ता (डाबर), कपिल गुप्ता, सभासद पंकज मिश्रा,  आदित्य पोरवाल, बैंक से सेवानिवृत्त अधिकारी शेखर गुप्ता, तेज बहादुर वर्मा, आदित्य लक्षकार, मयूर लक्षकार,समेत पूरा महिला मंडल मौजूद रहा।

नोट : सच की दस्तक टीम की विचित्र पहल के साथ पूरी बातचीत (इंटरव्यू) आप जल्द ही वीडियो यूट्यूब चैनल पर देख सकेगें।

Sach ki Dastak

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x