तमिलनाडु में कोरोना से 54 वर्षीय शख्स ने गंवाई जान

  • 54 वर्षीय शख्स ने गंवाई जान
  • तमिलनाडु में पहली मौत
  • देशभर में 560 हुई मरीजों की संख्या

कोरोना वायरस की चपेट में आकर एक और शख्स ने अपनी जान गंवा दी है. तमिलनाडु में कोरोना से मौत का पहला मामला है. खास बात है कि यह शख्स विदेश गया ही नहीं था. यह 23 मार्च को कोरोना से संक्रमित मिला था. इसके बाद इसका इलाज राजाजी हॉस्पिटल में चल रहा था. इस मौत के साथ देशभर में कोरोना से मरने वालों की संख्या 11 हो गई है। 

स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि मदुरैई के रहने वाले एक 54 वर्षीय की बुधवार को मौत हो गई है. पिछले दो दिनों से उसका राजाजी हॉस्पिटल में इलाज चल रहा था, लेकिन वह ठीक नहीं हो रहा था. उसे डायबिटिज के साथ हाइपरटेंशन था. उसकी तबियत लगातार बिगड़ती जा रही थी और आज सुबह ही उसने दम तोड़ दिया.

महाराष्ट्र में भी बुधवार को कोरोना वायरस के चार नये मामले सामने आये जिससे राज्य में इससे संक्रमित मामलों की संख्या बढ़कर 116 हो गई है।

अधिकारियों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना वायरस के नये मामले मुंबई से सामने आये है। उन्होंने बताया कि चार लोगों का शहर के नगरपालिका कस्तूरबा अस्पताल में इलाज चल रहा है। 

उल्लेखनीय है कि स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार सुबह जारी ताजा आंकड़ों में बताया कि दिल्ली में जिस दूसरे व्यक्ति की मौत हुई थी, वह कोविड-19 से संक्रमित नहीं था इसलिए भारत में मृतक संख्या कम होकर नौ हो गई है। 

आंकड़ों के अनुसार कोरोना वायरस से पीड़ित 512 लोगों का अभी उपचार चल रहा है जबकि 41 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई या वे देश से बाहर चले गए हैं।

कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे के कारण देश में 21 दिन के लॉकडाउन का ऐलान किया गया है. इस दौरान लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की सलाह दी जा रही है. इस नियम का पालन खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी कर रहे हैं. बुधवार को प्रधानमंत्री आवास पर बुलाई गई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में सभी मंत्री करीब एक-एक मीटर की दूरी पर बैठे.

कोरोना वायरस से जुड़े मसलों पर चर्चा करने के लिए बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने आवास पर कैबिनेट की बैठक बुलाई. इस दौरान सभी मंत्रियों की कुर्सी को एक दूरी पर लगाया गया, ताकि सोशल डिस्टेंसिंग को मैंटेन किया जा सके.

बता दें कि दुनियाभर के एक्सपर्ट्स ने सलाह दी है कि लोग एक दूसरे से दूरी बनाए रखें, ताकि किसी भी तरह की बीमारी एक-दूसरे में ना जा सके.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *