डेंगू एक खतरनाक बीमारी इस पर नीमा ने सेमिनार का किया आयोजन –


नेशनल इंटीग्रेटेड मेडिकल एसोसिएशन चकिया चंदौली एवम् पैथ काइंड के सयुंक्त तत्वाधान में डेंगू पर एक सेमिनार का आयोजन नगर के एक होटल में संपन्न हुआ। 

जिसमे डॉ अमित कुमार सिन्हा ने कहा क्या होता है डेंगू वह एक वायरस से होने वाली बीमारी का नाम है जो एडीज नामक मच्छर की प्रजाति के काटने से होती है. इस मच्छर के काटने पर विषाणु तेजी से मरीज के शरीर में अपना असर दिखाते जिसके कारण तेज बुखार और सर दर्द जैसे लक्षण दिखाई देते है।

इसे हड्डी तोड़ “बुखार” या ब्रेक बोन बुखार भी कहा जाता है. डेंगू होने पर मरीज के खून में प्लेटलेट्स की संख्या तेजी से घटती है जिसके कारण कई बार जान का जोखिम भी बन जाता है।डेंगू एक इंसान से दुसरे इंसान को नहीं फैलता ये केवल मच्छर के काटने से ही होता है।

कब सबसे ज्यादा फैलता है डेंगू गर्मी और बारिश के मौसम में यह बीमारी तेजी से पनपती है. डेंगू के मच्छर हमेशा साफ़ पानी में पनपते है जैसे छत पर लगी पानी की टंकी, घडो और बाल्टियों में जमा पीने का पानी, कूलर का पानी, गमलो में जमा पानी आदि. वही दूसरी ओर मलेरिया के मच्छर हमेशा गंदे पानी में पैदा होते है।

डेंगू के मच्छर ज्यादातर हमेशा दिन में काटते है। इस अवसर पर नीमा प्रदेश प्रवक्ता डॉ ओ पी सिंह ,डॉ आर डी तिवारी, डॉ भारत जायसवाल ,डॉ ए के सिंह ,डॉ यू बी सिंह, डॉ सलाम, डॉ वाइ पी यादव, डॉ मुमताज, डॉ नितीश, डॉ संतोष शर्मा, डॉ सी बी सिंह ,डॉ मनोज , डॉ सुनील सिंह, डॉ संदीप तिवारी, डॉ इत्यादि लोग थे। कार्यक्रम का संचालन डॉ जे ए खान(सचिव) ने किया।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x