लोकलाज के सदमे में पिता ने भी की आत्महत्या : मरणासन्न हाल में पुत्री का चल रहा है इलाज –


चन्दौली-कहते है न भूख न जाने झूठा भात प्रेम न जाने जात कुजात,इसी तर्ज पर धानापुर थाना क्षेत्र की ओदरा गांव निवासी एक किशोरी ने धीना थाना क्षेत्र के बरहन गांव निवासी अपने से दोगुने उम्र के ब्यक्ति तथा दो बच्चों के पिता से इस कदर प्रेम किया कि दोनों जब एक दूसरे के नही हो पाए तो एक दूसरे के साथ मरने का आत्मघाती कदम उठा लिया,नतीजतन प्रेमी तो मौके पर ही मर गया किन्तु प्रेमिका को पुलिस द्वारा गम्भीर हालत में चिकित्सालय पहुचाया गया जहां उसका इलाज चल रहा है,बिटिया के इस कृत्य को पिता ने अपनी सामाजिक तौहीन मान सदमे फांसी लगाकर जान दे दी गयी,इस घटना ने परिजनों सहित पूरे क्षेत्र को झकझोर कर रख दिया। 
      सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक उक्त किशोरी के पिछले एक वर्ष से उक्त ब्यक्ति के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था,इस बाबत किशोरी के परिजनों ने उसे काफी डांट फटकार लगाते हुए कई बार समझाया भी था किंतु कहते हैं न कि बाली उमर का प्यार अंधा होता है बस यही हुआ भी जब दोनों को लगा कि वह सामाजिक और पारिवारिक कारणों से एक नहीं हो सकते तो एक साथ मर तो सकते ही है,अपने इसी निर्णय को अमली जामा पहनाने वास्ते दोनों माधोपुर की सेवन में उद्यान विभाग में पहुच रस्सी का फंदा बनाकर झूल गए,यहां भी कुदरत को दोनों का साथ मरणा पसन्द नही था परिणामतः प्रेमी की तो मौके पर ही इहलीला खत्म हो गयी किन्तु प्रेमिका बच गयी,शुबह शौच को निकले ग्रामीणों की नजर पड़ी तो उनके शोर मचाने पर इकठ्ठा हुए ग्रामीणो ने जब दोनों को फंदे से उठता तो प्रेमिका की सांस चल रही थी किन्तु वह बेहोश थी,सूचना पर पहुची पुलिस ने जहां प्रेमिका को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र धानापुर इलाज हेतु पहुचाया वही उसके प्रेमी के शव को कब्जे में लेकर पोष्ट मॉर्टम हेतु जिला अस्पताल भेज दिया,इधर किशोरी की हालत भी गम्भीर देख सीएचसी के चिकित्सकों द्वारा प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया जहां पर उसका इलाज चल रहा है समाचार लिखे जाते वक्त तक वह खतरे से बाहर बताई गई है,जबकि अपने पुत्री के इस कृत्य से बेहद दुखी पिता दिन के लगभग तीन बजे सदमे का शिकार हो घर के पास मौजूद बबूल के पेड़ पर रस्सी के सहारे झूल कर आत्महत्या कर लिया,जब लोगो ने यह हादसा देखा तो उसे आनन फानन में उतार कर सीएचसी ले गए जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया,इस बाबत बगैर पुलिस को सूचना दिए परिजनों द्वारा नरौली गंगा घाट पर उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया,प्रेमप्रसंग में हुई इस तरह की लोमहर्षक घटना से जहां क्षेत्र में हड़कम्प मच हुआ है वही परिजनों की आंखें इस कदर पथरा गयी है कि वह टकटकी लगाए निढ़ाल पड़े हुए हैं। 

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x