बढ़ी PF ब्याज दर : अब 8.55 फीसदी की जगह 8.65 फीसदी मिलेगा ब्याज दर-

  • EPFO ने पीएफ पर मिलने वाले ब्याज दरों में 10 आधार अंक बढ़ाया।
  • अब 8.55 फीसदी की जगह 8.65 फीसदी मिलेगा ब्याज दर।
  • न्यूनतम पेंशन पर अगली बैठक में लिया जाएगा फैसला।

सरकार ने नौकरी पेशा लोग व पेंधनधारकों को चुनाव से ठीक पहले बड़ा तोहफा दिया है। गुरुवार को सरकार ने घोषणा किया कि कर्मचारी भविष्य नीधि संगठन ने प्रोविडेंट फंड पर मिलने वाले ब्याज दर को 8.55 फीसदी से बढ़ाकर 8.65 फीसदी तक कर दिया है। ईपीएफओ ने कहा है कि पीएफ खातों पर यह दस आधार अंकों बढ़ोतरी वित्त वर्ष 2018-19 के लिए होगा। ईपीएफओ के इस कदम से सीधे तौर पर 6 करोड़ लोगों को फायदा मिलेगा।

वित्त वर्ष 16 के बाद से यह पहला मौका है जब पीएफ खातों पर मिलने वाले ब्याज दरों में बढ़ोतरी की गई है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक, ईपीएफओ बोर्ड ने न्यूनतम पेंशन को लेकर भी चर्चा किया।

हालांकि, इस मसले अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है। बोर्ड ने कहा इस पर अगले बैठक में चर्चा किया जाएगा। इसके पहले कयास लगााए जा रहे थे कि न्यूनतम पेंशन को लेकर भी आज फैसला लिया जा सकता है।

बता दें कि सेंट्रल बोर्ड आॅफ ट्रस्टीज (सीबीटी) श्रम मंत्रालय के अंतर्गत काम करती है और ईपीएफओ से जुड़े मसले पर फैसले लेने के लिए जिम्मेदार है। सीबीटी ही एक वित्तीय वर्ष में पीएफ पर मिलने वाले ब्याज दर के बारे में फैसला लेती है।

हालांकि, इस प्रस्ताव को वित्त मंत्रालय की तरफ मंजूरी मिलनी होगी। इसके पहले वित्त वर्ष 2017-18 के लिए ईपीएफओ ने पीएफ खातों पर ब्याज दर 8.55 फीसदी कर दिया था। हालांकि, 2016-17 में ब्याज दरर 8.65 फीसदी था। 2015-16 में यह 8.8 फीसदी था।

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x