कर्ज़ ने ली विवाहिता की जान –


 कर्ज के बोझ में दबी विवाहिता ने फांसी लगाकर अपनी लीला समाप्त की बबुरी गांव निवासी विमला देवी पत्नी दिलीप गुप्ता 45 वर्ष की रविवार की भोर में अपने ही अहाते में नीम के पेड़ से लटकती हुई लाश मिली। 

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचायत नामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया मृत का का पति दिलीप गुप्ता टेंपो चलाकर परिवार का भरण पोषण करता है। 
नित्य की भर्ती शनिवार की रात्रि टेंपो चलाकर वापस घर लौटने के बाद सो गया भोर में नींद खुली तो देखा कि पत्नी पास नहीं थी। 
 आसपास तलाश किया तो नीम के पेड़ से लटकती हुई लाश देखकर सन्न रह गया दिलीप गुप्ता पुलिसडवक चौकी के समय नवनिर्मित मकान में रहता था। 
शोरगुल सुनकर भारी संख्या में आसपास के ग्रामीण मौके पर जुट गए तथा इसकी सूचना पुलिस को दी गई पुलिस शव को पेड़ से उतारकर अपने कब्जे में लेकर अग्रिम कार्यवाही में जुट गई। 
 इस संबंध में मृतिका का पति दिलीप गुप्ता ने बताया कि कैश फॉर इंडिया से पत्नी ने लाखों रुपए कर्ज लिया था जिसका किस्त प्रति सप्ताह देना पड़ता था। 
समय से किस्त अदा ना होने के चलते पत्नी हमेशा तनाव में रहती थी उसी के चलते यह कदम उठाए हो। 
इस संबंध में चौकी इंचार्ज राजेश जी चौबे ने बताया कि किसी के खिलाफ कोई तहरीर नहीं मिली है पति की तहरीर पर मुकदमा कायम किया गया है आने के बाद ही मृत्यु के सही जानकारी हो पाएगी
0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x