नकवी ने ऑनलाइन बुकिंग केंद्र का किया उद्घाटन, बोले- हज 2022 की पूरी प्रक्रिया 100 फीसदी डिजिटल होगी

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा, “भारत में हज 2022 की पूरी प्रक्रिया शत प्रतिशत डिजिटल होगी।” नकवी ने बताया कि 700 से अधिक महिलाओं ने ‘मेहरम’ (पुरुष साथी) के बिना 2021 में हज के लिए आवेदन किया था और करीब 2,100 महिलाओं ने इसी श्रेणी में 2020 में आवेदन दिया था।

मुंबई। केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि भारत में 2022 में हज की पूरी प्रक्रिया 100 फीसदी डिजिटल होगी।
नकवी ने मुंबई में हज हाउस में ऑनलाइन बुकिंग केंद्र का शनिवार को उद्घाटन किया और बाद में एक बयान में कहा कि इंडोनेशिया के बाद सबसे ज्यादा संख्या में हाज यात्री भारत से भेजे जाते हैं। उन्होंने कहा कि कोविड-19 और सऊदी अरब सरकार द्वारा वैश्विक महामारी के मद्देनजर लिए गए फैसले के चलते 2020 और इस साल हज यात्रा हो नहीं पाई।

बयान में कहा गया कि हज 2022 की घोषणा नयी दिल्ली में 21 अक्टूबर को होने वाली हज समीक्षा बैठक में विभिन्न संबंधित विभागों से विचार-विमर्श के बाद की जाएगी। अल्पसंख्यक मंत्रालय, विदेश मंत्रालय, स्वास्थ्य एवं नागर विमानन मंत्रालय के अधिकारी, सऊदी अरब में भारत के राजदूत, जेद्दा में भारत के महावाणिज्यदूत और अन्य वरिष्ठ अधिकारी राष्ट्रीय राजधानी में होने वाली हज समीक्षा बैठक में मौजूद रहेंगे। उन्होंने कहा कि भारत और सऊदी अरब में हज यात्रियों के लिए कोविड-19 प्रोटोकॉल और स्वास्थ्य एवं स्वच्छता के संबंध में हज 2022 के लिए विशेष प्रशिक्षण के प्रबंध किए गए हैं।

मंत्री ने कहा, “भारत में हज 2022 की पूरी प्रक्रिया शत प्रतिशत डिजिटल होगी।” नकवी ने बताया कि 700 से अधिक महिलाओं ने ‘मेहरम’ (पुरुष साथी) के बिना 2021 में हज के लिए आवेदन किया था और करीब 2,100 महिलाओं ने इसी श्रेणी में 2020 में आवेदन दिया था। अगर वे हज यात्रा पर जाना चाहेंगी तो उनके आवेदन 2022 के लिए भी मान्य होंगे।

मंत्री ने यहां भारत की हज समिति के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक बैठक में हज 2022 की तैयारियों के संबंध में शनिवार को चर्चा की।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x