भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बयान पर बवाल, कांग्रेस ने दिया जवाब

भोपाल।

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने इंदौर में यह बयान देकर सबको चौंका दिया जिसमें उन्होनें खुलेआम कह दिया कि ‘‘यदि आज शहर में आरएसएस के पदाधिकारी नहीं होते तो वह अभी तक इंदौर शहर में आग लगा देते“ को लेकर राजनीतिक हलको में बवाल मच गया है। प्रदेश की सत्ताधारी पार्टी कांग्रेस ने इसे बेहद आपत्तिजनक व निंदनीय बताते हुए कहा कि इससे उनकी व उनकी पार्टी की विचारधारा सामने आ गयी है।

कांग्रेस प्रवक्ता नरेन्द्र सलूजा ने भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के इस बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि शहर में आग लगाने वाला कोई पैदा नहीं हुआ है, यह शिवराज सिंह चौहान की सरकार नहीं बल्कि सिंघम कमलनाथ की सरकार है। कैलाश विजयवर्गीय शुक्रवार को इंदौर में माफिया के नाम पर प्रदेश की कमलनाथ सरकार द्वारा चलाए जा रहे अभियान के विरोध में अपने समर्थकों सहित धरने पर बैठ गए थे।

वही भाजपा महासचिव के बयान के बाद कांग्रेस की तरफ से आई प्रतिक्रिया में कैलाश विजयवर्गीय पर निशाना साधते हुए उनके विधायक पुत्र आकाश विजयवर्गीय का उदाहरण देते हुए कहा कि पुत्र ने बल्लेबाजी की थी और पिताजी शहर को आग में झोंकने की खुलेआम धमकी दे रहे हैंयह सभी के सामने है। पश्चिम बंगाल के भी प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय के उपर टिप्पड़ी करते हुए कहा कि वह पश्चिम बंगाल जब-जब भी जाते हैं हिंसा होती हैइसी से समझा जा सकता है कि उस हिंसा के पीछे क्या कारण है?

कांग्रेस प्रवक्ता नरेन्द्र सलूजा ने कैलाश विजयवर्गीय के बयान पर प्रधानमंत्री मोदी की मंशा पर भी सवाल खडे किए। उन्होनें कहा कि प्रधानमंत्री जी ने कैलाश विजयवर्गीय के विधायक पुत्र आकाश विजयवर्गीय की बल्लेबाजी के विरोध में बयान दिया था, लेकिन उन पर कोई कार्यवाही नहीं हुईशायद इसी से हिम्मत पाकर कैलाश विजयवर्गीय इस तरह का बयान दे रहे हैं।

कांग्रेस का आरोप है कि भाजपा की 15 साल की सरकार में ऐसे कई माफियाओं को खुला संरक्षण और पोषण प्राप्त थाजिनके खिलाफ कमलनाथ सरकार कार्यवाही कर रही है। जिसके चलते ही बौखला कर कैलाश विजयवर्गीय इस तरह इंदौर को आग लगाने वाला बयान दे रहे हैं।

कांग्रेस प्रवक्ता नरेन्द्र सलूजा ने कहा कि कैलाश विजयवर्गीय के इस बयान पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व अमित शाह को तत्काल उन पर कार्यवाही करना चाहिए और उन्हें पार्टी से बाहर करना चाहिए साथ ही भाजपा को स्पष्ट करना चाहिए कि वह उनके बयान से सहमत है या नहीं।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x