प्रखर राष्ट्रवाद व स्वाभिमान पैदा करना है जरूरी : अशोक वेरी

सच की दस्तक डिजीटल डेस्क चन्दौली

पीडीडीयूनगर/ मुगलसराय (चंदौली): आज सभी समस्याओं का समाधान तभी हो सकेगा जब तक हर व्यक्ति में प्रखर राष्ट्रवाद और स्वाभिमान का भाव पैदा होगा। इस काम के लिए सारी जिम्मेदारी केवल सरकार पर नहीं है बल्कि हर एक व्यक्ति को अपनी भूमिका का निर्वहन करना होगा ।
उक्त बातें शुक्रवार को दामोदरदास पोखरे पर आयोजित स्वतंत्रता के अमृत महोत्सव अभियान के शुभारंभ के अवसर पर सामाजिक कार्यकर्ता एवं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय कार्यकारिणी सदस्य अशोक बेरी ने कही ।
उन्होंने कहा कि हम सबको इतनी भी फुर्सत नहीं है कि हम अपने पूर्वजों के बारे में जानकारी हासिल कर सकें। खुद के पीढ़ी के बारे में भी हमें बहुत जानकारी नहीं होती। हम सबके भीतर आत्म केंद्रित होने की बीमारी लग गई है, इसे दूर करना होगा। अपने पूर्वजों का इतिहास हम सबको अपने घर से शुरू करना होगा। इसी तरह समाज में जो लोग राष्ट्र हित के लिए कुछ अच्छा कर चुके हैं या कर रहे हैं उन्हें भी याद करना होगा।
आज हम सब लोग राष्ट्रध्वज फहरा कर अपने स्वाभिमान का परिचय देते हैं ।आजादी के तत्काल बाद के सरकारों को भय था कि यदि सार्वजनिक स्थल पर राष्ट्रीय ध्वज फहराएंगे तो उनमें प्रखर राष्ट्रवाद का भाव जागृत होगा। इसी भय से उन लोगों ने इसे प्रतिबंधित कर दिया था।बाद में जब मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंचा तब कहीं जाकर इसकी अनुमति मिली कि कहीं भी कोई व्यक्ति राष्ट्रीय ध्वज को फहरा सकता है।
उन्होंने कहा कि हमारे देश के इतिहास लेखन में काफी गड़बड़ी हुई है। हमारी आजादी कुछ परिवारों द्वारा अर्जित आजादी नहीं है। करोड़ों लोगों ने इसके लिए बलिदान दिया तब जाकर यह आजादी मिली है। गुमनाम हुए उन क्रांतिवीरों को खोज कर निकालना होगा और उन्हें सम्मान देना होगा।
श्री बेरी ने आगे कहा कि आज भी देश में 45% लोगों को दो वक्त का भोजन नहीं मिलता वहीं दूसरी तरफ से लोग इतना छोड़ देते हैं जिससे काफी लोगों का भरण पोषण हो सकता है। इस नजरिए को भी बदलना होगा।
हमें हमारी शिक्षा व्यवस्था में क्या कमी है इसे समझना पड़ेगा। आखिर हमारे देश के लोगों को नोबेल पुरस्कार क्यों नहीं मिलता ।कहीं ना कहीं हम सब आत्म केंद्रित व्यवस्था में चल रहे हैं ।
हमारे देश के प्रधानमंत्री ने जब विदेश यात्रा करते थे तो लोग प्रश्न खड़ा करते थे अब सभी को बात समझ में आ रही है उनकी विदेश यात्रा के दौरान पूरी दुनिया में हमारी स्वीकार्यता और महत्ता बढ़ी है। हमारे प्रधानमंत्री आज इंटरनेशनल रेटिंग में चौथे पायदान पर आ गए हैं, जो गौरव की बात है ।
आखिर में उन्होंने अमृत महोत्सव के लिए कहा कि इस अभियान में घर- घर जाकर प्रखर राष्ट्रवाद और स्वाभिमान जगाना होगा तभी राष्ट्र में व्याप्त सभी समस्याएं हल हो सकेंगी।
इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि डॉ नंदिनी मिश्रा श्रीमती पुष्पा मिश्रा रामकिशोर पोद्दार विन विनय वर्मा सतीश जिंदल ने भी विचार व्यक्त किए कार्यक्रम की शुरुआत में दीप प्रज्वलन एवं तिरंगा झंडा के झंडा का रोहण किया गया झंडारोहण के समय राष्ट्रगान का कार्यक्रम संपन्न हुआ कार्यक्रम की अध्यक्षता कैलाश किशोर पोद्दार एवं धन्यवाद ज्ञापन डॉक्टर सत्यकेतु जयसवाल व संचालन डॉ अनिल यादव ने किया।
कार्यक्रम के दौरान विभिन्न राजनैतिक दलों के कार्यकर्ता एवं नेता सामाजिक संगठनों के पदाधिकारी एवं भारी संख्या में सामान्य भाई और बहन उपस्थित थे जिनमें विधायक साधना सिंह राष्ट्रीय उपाध्यक्ष महिला मोर्चा दर्शना सिंह आलोक वरुण
क्षेत्रीय उपाध्यक्ष रमेशचंद्र जायसवाल ट्रेड यूनियन नेता राममूर्ति यादव स्वामीनाथ यादव अशोक सैनी दिनेश कुशवाहा अनिल गुप्ता सुधीर पांडे कैप्टन ओंकार सिंह राणा प्रताप सिंह विकास चौधरी संतोष उपाध्याय अभिषेक पांडे प्रमुख मनोज उपाध्याय सामाजिक कार्यकर्ता जगदीश जी सुयश भरूका रोहित यादव अंकित दिनेश आनंद अजीत श्रीवास्तव भुवनेश्वर चौहान गुरु नारायण जयसवाल समेत भारी संख्या में लोग उपस्थित थे। कार्यक्रम के समाप्ति पर वंदे मातरम का गायन रिदम के संयोजक विजय एवं आशिया के निर्देशन में बच्चों ने किया

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x