भारतीय जवान के एक थप्पड़ से कांपने लगा था गीदड़ मसूद अजहर, रो-रोकर उगल दिए थे सारे राज-

पुलवामा में सीआरपीएफ पर हुए हमले के बाद आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने घटना की जिम्मेदारी ली थी। जैश का प्रमुख मसूद अजहर पाकिस्तान में रहता है, लेकिन एक वक्त ऐसा भी था जब वह भारतीय सुरक्षा अधिकारियों की गिरफ्त में था।

जैश प्रमुख की जांच से जुड़े एक अधिकारी ने PTI को बताया है कि मसूद अजहर से जानकारी निकालने के लिए अधिक मेहनत नहीं करनी पड़ी। एक ही थप्पड़ में वह हिल गया था और आतंकी गतिविधियों के बारे में काफी कुछ बताने लगा था।

1994 में गिरफ्तारी के बाद भारत के एक आर्मी ऑफिसर ने पूछताछ के दौरान मसूद अजहर को थप्पड़ मारा था। इसके बाद उसने पाकिस्तान से चलाई जा रही आतंकी कैपों के बारे में अहम राज खोले थे। आतंकी कैंपों में रिक्रूटमेंट के प्रोसेस को भी बताया था।

अजहर पुर्तगाल के एक पासपोर्ट पर बांग्लादेश से भारत में प्रवेश किया और कश्मीर पहुंच गया था। फरवरी 1994 में उसे दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग के गिरफ्तार किया गया था। वह बार-बार कहता था कि आईएसआई के लिए वह बेहद खास है।

सिक्किम के पूर्व डीजीपी और इंटेलिजेंस ब्यूरो में दो दशक तक काम करने वाले अविनाश मोहनाने ने भी अजहर से पूछताछ की थी। उन्होंने कहा कि अजहर को जांच के दौरान हैंडल करना आसान था।

1999 में इंडियन एयरलाइन्स की फ्लाइट IC 814 को हाईजैक करने के बाद पैसेंजर के बदले आतंकियों को छोड़े जाने की मांग की गई थी। इसी दौरान अजहर को भी भारत की जेल से छोड़ दिया गया था। इसके बाद से अजहर ने भारत में कई आतंकी हमलों को अंजाम दिया है।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x