डेटा वैज्ञानिक राजन थपलिया की पुस्तक ने बनाया विश्व रिकॉर्ड – 

न्यूयॉर्क निवासी लेखक संपादक और डेटा वैज्ञानिक राजन थपलिया का नाम चोलन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में दर्ज हो गया है। उनकी पुस्तक “100% जीवन” जो पहली बार माउंट एवरेस्ट पर लॉन्च की गई प्रथम पुस्तक घोषित हो गयी है।
चोलन बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड, भारत में सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कारों में से एक है। चोलन बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड ने राजन थपलिया की पुस्तक को माउंट एवरेस्ट पर विमोचित होने का अद्भुत रिकार्ड का दावा किया है, यह पुस्तक नेपाली अमेरिकी आप्रवासी द्वारा माउन्ट एवरेस्ट में विमोचित पहेली सेल्फ हेल्प पुस्तक बन गयी है । जो खुद में एक वर्ल्ड रिकार्ड है। 
शुक्रवार, 18 मई को सुबह 8 बजे, पेशेवर और प्रमाणित इंटरनेशनल माउंटेन गाइड श्री आंग दाव शेरपा, माउंट एवरेस्ट पर चढ़ गये थे।
बता दें कि एवरेस्ट समुद्र तल से 29,029 फीट (8,848 मीटर) जो पृथ्वी पर सबसे ऊंचा पर्वत है। यह पुस्तक दुनिया की पहली प्रेरक पुस्तक है जो नेपाली अप्रवासी द्वारा माउंट पर विमोचित की गई है। अंतरराष्ट्रीय लेखक राजन थपलिया कई पुस्तकों के लेखक और विश्व व्यापार ब्रांडेड पत्रिका फोर्ब्स मिडिल ईस्ट में लिखते हैं। यह हफपोस्ट और एलीट डेली के पूर्व लेखक रहे हैं ।
वह वर्तमान में न्यूयॉर्क सिटी पोस्ट एलएलसी के संपादक हैं। वह डेटा साइंटिस्ट हैं। वह नॉर्थसेंट्रल यूनिवर्सिटी में डॉक्टर ऑफ फिलॉसफी की डिग्री हासिल कर रहे हैं। उनकी प्रसिद्ध पुस्तक 100% जीवन अमेरिका के उत्तरी कैरोलिना के रैले में लुलु प्रेस द्वारा प्रकाशित किया गया था।
न्यूयॉर्क निवासी लेखक राजन थपलिया द्वारा लिखित, यह पुस्तक लोगों को जीवन के माध्यम से उनके पथ पर प्रेरित करने और प्रोत्साहित करने के लिए है। पाथ फाइंडर में उनकी कविता “मिस्टिक नेपाल” नेपाल में ६ व कक्षा के छात्रों के लिए राष्ट्रीय पाठ्यक्रम में शामिल है। राजन ने असहाय लोगों के बारे में कई समाचार और लेख लिखे हैं जो शारीरिक रूप से अक्षम थे; उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय मीडिया पर अपनी आवाज उठाई है। 
पुस्तक का मुख्य उद्देश्य पाठकों को पहले से अधिक मजबूत, अधिक शक्तिशाली और खुशहाल बनाना है। यह किताब आपके जीवन को बदलने और दर्द को आनंद में बदलना चाहती है। 100% जीवन हमारे जीवन के बारे में आशा और विश्वास से भरा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *