चिन्हित 24 मरीजों को नि:शुल्क किट का वितरण

सच की दस्तक न्यूज डेस्क चन्दौली
फाइलेरिया रोगियों के रुग्णता प्रबन्धन एवं विकलांगता की रोकथाम के लिए जनपद के साहबगंज पीएचसी पर फाइलेरिया बीमारी से ग्रसित 24 मरीजों को नि:शुल्क किट दिया गया | जिसमें एक बाल्टी, टब, मग, तौलिया, साबुन एंटी फंगल क्रीम वितरण किया गया | यह जानकारी जिला मलेरिया अधिकारी राजीव सिंह ने दिया | उन्होने बताया कि पिछले वर्ष संचालित हुये ट्रिपल ड्रग थेरेपी (आइडीए) व मास ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एमडीए) के दौरान मरीजों को चिन्हित किए गए थे |
डीएमओ ने कहा कि इस कार्यक्रम में फाइलेरिया मरीजों को उनके ग्रसित अंगों पैरों व हाथों का उचित ढंग से रखरखाव व सफाई करने एवं एक्सरसाइज का तरीका बताया गया | जिससे यह बीमारी गंभीर रूप न ले सके। जनपद में फाइलेरिया बीमारी की रोकथाम के लिए सालभर में एक बार एमडीए-आइडीए कार्यक्रम के अंतर्गत वितरित होने वाली दवाओं का सेवन अवश्य करें | नियमताबाद पीएचसी के बाद अन्य ब्लॉकों के चिन्हित मरीजों को भी चरणबद्ध तरीके से किट का वितरण किया जाएगा| इसके साथ ही फाइलेरिया के रोगियों को रख-रखाव व एक्सरसाइज के बारे में बताया जाएगा|
डीएमओ ने बताया कि वेक्टर जनित बीमारियों में एक बीमारी फाइलेरिया है | जिसमें सूजन पैदा करने वाली कृमि बीमारी होती है, जो मादा मच्छर क्यूलएक्स के काटने से एक आदमी से दूसरे आदमी में फैलता है| भारत की आधी आबादी ऐसे क्षेत्रों में रहती है जहां फाइलेरिया के होने व फैलने की पूरी संभावना बनी रहती है|
लक्षण – ठंड देकर बुखार आना, हाथ व पैर में सूजन का होना, कमजोरी आना, भूख न लगना, चक्कर आना कभी-कभी पुरुषों के अंडकोष में सूजन आ जाती है जिसे हाइड्रोसील कहते हैं। इसका सर्जरी द्वारा इलाज हो जाता है| लेकिन शरीर के वे अंग जैसे पैर व हाथ पर में सूजन जिसे हाथी पांव भी कहते हैं| गंभीर स्थिति होने पर विकलांगता भी हो सकती है। किसी व्यक्ति में फाइलेरिया के लक्षण नजर आयें | तो वह नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर तुरंत जांच कराये | सभी जांच एवं उपचार नि:शुल्क उपलब्ध है |

इनकी थी उपस्थिति
इस अवसर पर शहाबगंज प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ हीरा लाल,स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी अमर सिंह,वरिष्ठ मलेरिया निरीक्षक अनिल कुमार दुबे,मलेरिया निरीक्षक दीप्ति शर्मा ,वीसीपीएम प्रेमलता व महिपाल आदि उपस्थित रहें |

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x