अनाज बैंक के बदले में मुस्लिमों को तालीम देने से होगी क्रांति

जनपद चन्दौली के हरिशंकरपुर स्थित एम आई रोशनी पब्लिक स्कूल में मंगलवार को संस्था मदरसा रोशनी इस्लामियाँ सोसाइटी द्वारा देश के महान वैज्ञानिक पूर्व राष्ट्रपति भारत रत्न मिसाईलमैन डॉ एपीजे अब्दुल कलाम साहब की 88वीं जयंती बड़ी धूमधाम से मनाई गई ।

इस दौरान एक गोष्ठी “आओ तालीमी चिराग जलाए,घर-घर मे डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम बनाए’ आयोजित की गई ।

कार्यक्रम में शिरकत कर रहे काशी हिंदू विश्वविद्यालय के प्रोफ़ेसर डॉ राजीव श्रीवास्तव”संस्थापक अध्यक्ष, विशाल भारत संस्थान ने मुख्य अतिथि के रूप में डॉ एपीजे अब्दुल कलाम की जयंती पर बोलते हुए कहा डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम के जन्मदिवस पर हमे संकल्पित होकर अनाज बैंक के साथ मुस्लिम बाहुल्य इलाको में तालीम के लिए ही क्रांति लानी होगी जिससे पूरी तस्वीर बदल जाएगी।

 

गरीबी की मुख्य वजह मुस्लिम परिवार में तालीम का ना होना है। ज्यादे संख्या तालीम विहीन परिवारों की है जहां भुखमरी होती है। उनको अनाज के माध्यम से तालीम के लिए कांति लानी है। कोई भी धर्म हमें आपस में लड़ने नहीं सिखाता । जिनको राजनीतिक रोटियां सेखनि होती है वे अपनी मकसद अकेली कत्लेआम तक करवा देते है। मकसद पूरा होती ही आपको आपकी दशा पर छोड़ देते हैं।

1947 के बाद यही दशा राजनीतिज्ञ लोगों ने मुस्लिमों को छोड़ा उनहे अपनी राजनीति के लिए तालीम से वंचित रखा ।

उन्होंने यह भी कहा कि विश्व खाद्य दिवस पर जनपद चंदौली में अनाज बैंक की स्थापना इस विद्यालय प्रांगण में की जाएगी। कोई भी लोग भूखा नहीं सोएगा । उन्होंने यह भी कहा कि अनाज के बदले तालीम लेनी होगी जिसमें उम्र की कोई बंदी से नहीं होंगी हमारा मुख्य उद्देश्य पेट की भूख शांत कर सभी को तालीम देकर साक्षर बनाना है जिससे डॉ एपीजे अब्दुल कलाम की सोच साकार रूप ले सके।

वही संस्था उपाध्यक्ष/प्रबन्धक रोशनी पब्लिक स्कूल ,इक़बाल अहमद राजू ने तालीमी चिरागपर प्रकाश डालते हुवे कहा कि देश मे तालीम (साक्षरता)में मुस्लिम समाज एक दम नीचे के नीचे पायदान पर है इसे बदलने की आवश्यकता है। क्योंकिबिना तालीम के व्यक्तित्व व राष्ट्र का उत्थान नही हो सकता।

वही विशिष्ट अतिथि शाहीन रिज़वी ने कहा कि आज के युवाओं को डॉ ए पी जे के पदचिन्हों पर चलने की आश्यकता है ।

इस दौरान डॉ इरफान शम्सी,प्रो डॉ कौटिल्य चंदेल,औसाफ़ अहमद,ग्राम प्रधान सतपोखरी हमीदुल्लाह अंसारी,नूरुद्दीन सरदार,हाफिज नउरुलद्दीन सरदार,असलम सरदार,सलाम महतो,अनवर महतो,अजीज महतो,जमालुद्दीन सरदार,बाबा विजय दास,छात्र नेता शरीक अख्तर,अविनास लखन,सहित सैकड़ों लोग जनमोत्स्व में शामिल रहें।कार्यक्रम का संचालन निरूपा रॉय,शाहिना परवीन ने संयुक्त रूप से किया ।धन्यवाद ज्ञापन संस्था अध्यक्ष रेशमा इक़बाल ने किया।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x