शस्त्र पूजन के बाद आर एस एस कार्यकर्ताओं का लहराना पिस्टल बना चर्चा

खबर उत्तर प्रदेश के चंदौली से

डीडीयू नगर। संघ अपने नियमों और अनुशासन के नाम से जाना व पहचाना जाता है। उसी अनुशासन का हवाला समय-समय पर संघ और बीजेपी के नेता समाज में किसी न किसी प्रकार देते रहते है। विजयादशमी पर दो घटना ऐसी घटी जिससे संघ के अनुशासन के दावों पर एक बड़ा सवाल लगता हुआ नजर आ रहा है। जहाँ ऐसी तस्वीर वायरल हो रही है जिसमें आरएसएस के प्रचारक हवा में बंदूकें लहराते हुए दिख रहें हैं। जो नगर में चर्चा का विषय बना हुआ है। विजयादशमी पर हाथरस के बगला इंटर कॉलेज में आरएसएस के शास्त्र पूजन के बाद हर्ष फायरिंग की गयी। इस हर्ष फायरिंग में एक विधायक पुत्र समेत एक पत्रकार घायल हुआ। ये मामला अभी शांत भी नहीं हुआ कि दिनदयाल नगर में आरएसएस की एक और तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। जिसमे शस्त्र पूजन के बाद हर्ष फायरिंग करते हुए आरएसएस के प्रचारक दिख रहें हैं।नगर के अग्रवाल सेवा सदन में शस्त्र पूजन का आयोजन किया गया। आरएसएस के नेता बाहर निकल कर हवा में बंदूकें लहराते हुए फायरिंग किए जाने की चर्चा व्याप्त है। जिस प्रकार से ये दोनों घटना विजयादशमी पर हुई ,उससे ये जाहिर होता है कि आरएसएस के कार्यकर्ताओं में भी बीजीपी के सत्ता का नशा दिख रहा है। इसके पहले आरएसएस से ऐसी घटनाये सुनने को नहीं मिल रही थी।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x