योगी ने कुम्भ को बना दिया महाकुम्भ, मंत्रियों संग संगम में लगाई डुबकी

कुम्भ नगरी (प्रयागराज), 30 जनवरी 2019 –

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को तीर्थराज प्रयाग में चल रहे कुम्भ मेले में कैबिनेट की बैठक कर एक नया इतिहास रचा॥

इस दौरान उन्होंने मंत्रिमंडल के सदस्यों और अखाड़ा परिषद के प्रमुख संतों के साथ पवित्र संगम में स्नान भी किया.

कुम्भ मेले में आयोजित कैबिनेट बैठक का केंद्र बिन्दु भी प्रयागराज ही रहा. कैबिनेट ने प्रयागराज को पश्चिम उत्तर प्रदेश से जोड़ने के लिए करीब 600 किलोमीटर लम्बे गंगा एक्सप्रेस वे के निर्माण को मंजूरी दी. साथ ही प्रयागराज नगर में स्थित भरद्वाज आश्रम के सुंदरीकरण का निर्णय लिया. नगर से करीब 40 किमी दूर श्रृंगवेरपुर धाम को भी विकसित किया जाएगा. वहां निषादराज की मूर्ति भी लगेगी. इसके अलावा प्रयागराज और चित्रकूट के बीच स्थित वाल्मीकी आश्रम के विकास का निर्णय भी आज की कैबिनेट बैठक में लिया गया. योगी ने बताया कि वहां महर्षि वाल्मीकि की प्रतिमा और शोध संस्थान भी स्थापित किये जाएंगे.

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी ने उत्तराखंड के अलग होने के बाद लखनऊ से बाहर प्रयागराज में मंत्रिमंडल की पहली बैठक कर कैबिनेट के इतिहास में आज एक नया अध्याय जोड़ा. इससे पहले वर्ष 1962 में गोविंद वल्लभ पंत के शासन में एक बार प्रदेश कैबिनेट की बैठक नैनीताल में हुई थी. इसी तरह करीब 132 साल पहले प्रयागराज में विधानसभा की बैठक हुई थी. कैबिनेट की बैठक के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंत्रियों के साथ पवित्र संगम में डुबकी भी लगाई. स्नान के बाद सभी ने गंगा की आरती भी की. इस दौरान अखाड़ा परिषद के कई संत भी उपस्थित रहे. इसके बाद मुख्यमंत्री समेत सभी मंत्रियों ने नाथ संप्रदाय के गोरखनाथ अखाड़ा शिविर भोजन ग्रहण किया.

इसके बाद मुख्यमंत्री और अन्य मंत्रियों का काफिला मेला क्षेत्र के सेक्टर छह में चल रहे नेत्र कुम्भ में पहुंचा. वहां अखाड़ा परिषद के पदाधिकारियों के साथ मुख्यमंत्री योगी ने नेत्र कुम्भ का निरीक्षण किया. मुख्यमंत्री ने इस मौके पर भाऊराव देवरस तथा प्रो0 राजेन्द्र सिंह रज्जू भैया के चित्र पर पुष्प भी अर्पित किये. मुख्यमंत्री ने नेत्र कुम्भ में बने विशाल अस्पताल में भर्ती मरीजों से वार्ता की तथा उन्हें दी जा रही सुविधाओं के विषय में जानकारी की।

नेत्रकुम्भ में लगे शिविर के विभिन्न अनुभागों में जाकर मरीजों को दी जा रही सुविधाओं, परीक्षण, दवा, चश्मा वितरण आदि का अवलोकन करते हुये योगी ने व्यवस्थाओं की प्रशंसा भी की. इस नेत्र कुम्भ में सदगुरू नेत्र चिकित्सालय जानकी कुण्ड चित्रकूट, अखिल भारतीय आर्युविज्ञान संस्थान ऋषिकेश, सरोजनी नायडू मेडिकल कालेज आगरा, मनोहरदास नेत्र चिकित्सालय प्रयागराज, सीतापुर आॅख अस्पताल, चिकित्सा विश्वविद्यालय लखनऊ, लाला लाजपत राय मेमोरियल कालेज मेरठ, बाबा राघवदास मेडिकल कालेज गोरखपुर आदि सहित देश-प्रदेश के विभिन्न मेडिकल कालेजों के डाक्टरों द्वारा उक्त नेत्र शिविर में मरीजों के नेत्र इलाज किये जा रहे हैं.

इसके बाद मुख्यमंत्री वहां से बमरौली हवाई अड्डे के लिए रवाना हो गये, जबकि मंत्रीगण वहां से अरैल स्थित संस्कृत ग्राम और कला ग्राम का अवलोकन करने चले गये. कैबिनेट बैठक में भाग लेने आये अधिकतर मंत्री आज रात्रि टेंट सिटी में विश्राम करेंगे.
कैबिनेट बैठक में शामिल होने के लिए मुख्यमंत्री योगी राजधानी लखनउ से आज सुबह करीब 10 बजे बमरौली हवाई अड्डे पहुंचे. उनके साथ कई मंत्री भी हेलीकाॅप्टर और राजकीय विमान से यहां आये, जबकि अधिकतर मंत्री कल देर रात तक प्रयागराज पहुंच चुके थे.

To join the cabinet meeting, the Chief Minister Yogi reached the Bamruli Airport at around 10 am this morning from the capital Lucknow. Many ministers accompanied him with helicopters and state aircraft, while most ministers had reached Prayagraj till late last night.
Chief Minister’s convoy from Bamrauli Airport has reached Hanuman temple directly at Bandh in Kumbh Mela. After worshiping Hanuman ji worshipers with the ministers, Yogi also saw the Akshayvata and Saraswati Kupa located in the fort with the ministers. After this, the Cabinet meeting was held in the Auditorium of Prayagraj Fair Authority.

Most of the Ministers, Chief Secretaries and Chief Secretaries of different departments, including both Deputy Chief Ministers Keshav Prasad Maurya and Dr. Dinesh Sharma, were present in the meeting. Strict management of security arrangements were made outside and outside the fair area of ​​the cabinet meeting. All Chief Executives, including ADG SN Sabt, Mandalak Ashish Goyal, DIG Kumbh KP Singh, remained in full swing for the whole time.

बमरौली हवाई अड्डे से मुख्यमंत्री का काफिला सीधे कुम्भ मेला में बंधवा स्थित हनुमान मंदिर पहुंचा. मंत्रियों के साथ हनुमान जी की पूजा आराधना करने के बाद योगी मंत्रियों के साथ किला स्थित अक्षयवट और सरस्वतीकूप का भी दर्शन किये. इसके बाद प्रयागराज मेला प्राधिकरण के सभागार में कैबिनेट बैठक आयोजित हुई.

बैठक में दोनों उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व डॉ. दिनेश शर्मा समेत अधिकतर मंत्री, मुख्य सचिव और विभिन्न विभागों के प्रमुख सचिव शामिल हुए. कैबिनेट की बैठक को लेकर मेला क्षेत्र के बाहर और अंदर सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए थे. एडीजी एसएन साबत, मंडलायुक्त आशीष गोयल, डीआईजी कुम्भ केपी सिंह समेत सभी प्रमुख अधिकारी पूरे समय तक मुस्तैद रहे.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x