उत्तर प्रदेश MLC चुनाव में भाजपा ही भाजपा: 36 में से 33 सीटों पर BJP का कब्जा, नहीं खुला अखिलेश यादव की पार्टी का खाता

उत्तर प्रदेश के विधान परिषद के चुनाव परिणामों में भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने इतिहास रचते हुए 36 में से 33 सीटों पर जीत हासिल की। ऐसा पहली हो रहा है जब विधानसभा के साथ-साथ किसी पार्टी को विधान परिषद में भी बहुमत हासिल हुआ है। प्रमुख विपक्षी दल समाजवादी पार्टी (SP) चुनाव में मुकाबले में ही नहीं दिखी। पार्टी को एक भी सीट पर जीत हासिल नहीं कर सकी। तीन निर्दलीय उम्मीदवारों ने भी जीत हासिल की है।

प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीजेपी की जीत पर बधाई दी। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, “उत्तर प्रदेश के उच्च सदन के लिए नव निर्वाचित सभी सदस्यों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएँ! आज उत्तर प्रदेश के स्थानीय प्राधिकारी विधान परिषद चुनावों में भाजपा की प्रचण्ड विजय ने पुनः स्पष्ट कर दिया है कि आदरणीय प्रधानमंत्री जी के कुशल मार्गदर्शन एवं नेतृत्व में प्रदेश की जनता राष्ट्रवाद, विकास एवं सुशासन के साथ है।”

बता दें कि शाहजहाँपुर-पीलीभीत एमएलसी सीट पर भी भाजपा ने कब्जा कर लिया। भाजपा प्रत्याशी डॉक्टर सुधीर गुप्ता ने यहाँ से जीत दर्ज की। सपा एमएलसी एवं प्रत्याशी अमित यादव रिंकू लंबे अंतर से चुनाव हार गए। विधानसभा चुनाव 2022 में सपा प्रत्याशी के भाई पूर्व विधायक राजेश यादव शाहजहाँपुर की मीरानपुर कटरा विधानसभा से करीब 300 वोट के मामूली अंतर से हारे थे।

वहीं गोरखपुर-महाराजगंज प्राधिकारी निर्वाचन क्षेत्र से विधान परिषद चुनाव में बीजेपी से सीपी चंद 4432 वोटों से विजयी हुए। फर्रुखाबाद-इटावा सीट से बीजेपी के प्रांशु दत्त द्विवेदी ने जीत दर्ज की। 4139 मत बीजेपी को मिले। वहींं, सपा से हरीश यादव को मात्र 656 मत मिले। इधर कानपुर-फतेहपुर सीट से बीजेपी के अविनाश सिंह चौहान ने जीत दर्ज की है। उनको 4619 मत मिले हैंं। सपा के दिलीप सिंह उर्फ कल्लू यादव 299 मत मिले हैं।

रायबरेली सीट पर सपा से चुनावी मैदान में उतरे बीरेंद्र यादव को बीजेपी प्रत्याशी दिनेश प्रताप सिंह ने करारी मात दी है। लखनऊ-उन्नाव सीट पर बीजेपी के उम्मीदवार रामचंद्र प्रधान की जीत हुई है। यहाँ समाजवादी पार्टी के निवर्तमान विधान परिषद सदस्य सुनील सिंह साजन अपनी सीट नहीं बचा पाए। रामचंद्र प्रधान को यहाँ 92 फीसदी वोट मिले। सपा प्रत्याशी डॉक्टर कफील खान को भी हार का सामना करना पड़ा।

कहाँ-कहाँ हुई मतगणना

मुरादाबाद, शाहजहाँपुर, बरेली, लखनऊ, सीतापुर, रायबरेली, प्रतापगढ़, सुल्तानपुर, बहराइच, गोंडा, बाराबंकी, अयोध्या, बस्ती, देवरिया, आजमगढ़, गोरखपुर, बलिया, गाजीपुर, जौनपुर, वाराणसी, प्रयागराज, फतेहपुर, फर्रुखाबाद, झाँसी, आगरा, मेरठ और सहारनपुर को मतगणना केंद्र बनाया गया था। उत्तर प्रदेश में खाली एमएलसी की 36 सीटों पर 27 सीटों के लिए शनिवार (9 अप्रैल 2022) को मतदान हुआ था।

स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन क्षेत्र की 35 निकाय सीटों पर 36 सदस्यों का चुनाव की प्रक्रिया चार फरवरी को शुरू हुई थी। मगर यूपी विधानसभा चुनाव 2022 के चलते इस प्रक्रिया को आगे बढ़ा दिया गया था। 25 मार्च तक इस चुनाव के लिए नामांकन जमा कराए गए। 36 सीटों में से 9 पर भाजपा के सदस्य निर्विरोध निर्वाचित घोषित हुए हैं। शेष 27 सीटों पर चुनाव हुआ था।

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x