दिल्ली: शाहीन बाग इलाके से करीब 400 करोड़ रुपये की हेरोइन बरामद, 30 लाख कैश मिले

दिल्ली के शाहीन बाग इलाके से 50 किलो हेरोइन बरामद की गई है. इसके अलावा 30 लाख कैश, नोट गिनने की मशीन और कई किलो अन्य ड्रग्स बरामद किए गए हैं. बरामद की गई हेरोइन की अनुमानित कीमत 400 करोड़ रुपये बताई जा रही है. पुलिस ने इस मामले में इंडो-अफगान सिंडिकेट का खुलासा किया है. मिली जानकारी के मुताबिक, अफगानिस्तान से ड्रग्स की खेप दिल्ली आई थी. ड्रग्स की तमाम खेप फिल्पकार्ट पैकिंग में बंद थी. इस मामले में सिंडिकेट के तार उत्तर प्रदेश पंजाब दिल्ली से जुड़े हुए बताए जा रहे हैं. पुलिस ने इस दौरान एक आरोपी को गिरफ्तार किया है.

अफगान, पाकिस्तान और भारतीय मूल के लोग शामिल
नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. एनसीबी ने ड्रग तस्करी के एक बड़े सिंडिकेट का पर्दाफाश किया है जिसमें अफगान, पाकिस्तान और भारतीय मूल के लोग शामिल हैं. दरअसल, ये एक इंडो-अफगान सिंडिकेट है. नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने करीब 400  करोड़ रुपये की ड्रग्स बरामद की है.

डिप्टी डायरेक्टर जनरल (डीडीजी) ज्ञानेश्वर सिंह ने बताया कि एक सीक्रेट ऑपरेशन पर काम करते हुए दिल्ली के शाहीन बाग और जामिया इलाके में रेड कर एक घर से 50 किलो हेरोइन और 47 किलो संदिग्ध नारकोटिक्स बरामद किया है. साथ ही, 30 लाख रुपये कैश और नोट गिनने की मशीन बरामद की है.

समुंदर और पाक बॉर्डर के रास्ते लाई गई 
दरअसल, जांच में पता चला है कि ये हेरोइन पेड़ की डालियों में छिपाकर समुद्र और बॉर्डर के रास्ते हिंदुस्तान लाई गई थी. साथ ही, NCB को शक है कि बरामद कैश भी हवाला के जरिये हिंदुस्तान लाया गया है.

ज्ञानेश्वर सिंह ने बताया कि इससे पहले भी ये सिंडिकेट हिंदुस्तान में अलग-अलग सामान में ड्रग्स छिपाकर हिंदुस्तान ला चुका है. दरअसल, इस सिंडिकेट से जुड़े लोग ऐसे कामों में माहिर हैं, जिसका फायदा ये कई बार NCB और अन्य जांच एजेंसियों को चकमा देने के लिए भी करते हैं.

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x