बड़ा मंगल पर हनुमान मन्दिरां में उमड़ा हुजूम

0

सच की दस्तक डिजिटल न्यूज डेस्क वाराणसी चन्दौली 
जितेंद्र मिश्रा 
हिंदू धर्म में हनुमानजी की पूजा का विशेष महत्व है। उन्हें प्रसन्न करने के लिए मंगलवार का दिन सबसे शुभ माना जाता है। यदि यह मंगलवार ज्येष्ठ माह में हो, तो इसकी महत्ता अधिक बढ़ जाती है। बता दें ज्येष्ठ माह में आने वाले सभी मंगलवार को बड़ा मंगल या बुढ़वा मंगल कहा जाता है। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार ज्येष्ठ माह के मंगलवार को भगवान राम और हनुमानजी की पहली बार मुलाकात हुई थी। तभी से इस महीने में आने वाले सभी मंगलवार को बड़ा मंगल कहा जाता है। इस दिन वीर बजरंगी की पूजा करने से जीवन की सभी समस्याओं का निवारण होने लगता है।
मान्यता है कि बड़े मंगल को हनुमानजी की विधिपूर्वक पूजा करने के साथ-साथ उनके प्रिय भोग भी लगाने चाहिए, इससे तरक्की के योग बनते हैं और कार्यों में सफलता मिलती है। इस माह का बड़ा मंगल 18 जून मंगलार को है। इस दिन उन्हें उनके प्रिय भोग लगाने से शुभ फलों की प्राप्ति हो सकती है। आइए इनके बारे में जान लेते हैं।
हनुमानजी की पूजा विधि
बड़े मंगल के पावन अवसर पर सुबह प्रभात बेला में उठकर स्नान करें। इसके बाद साफ कपड़े पहनकर पूजा स्थल पर पहुंचे। आप हनुमानजी की मूर्ति या प्रतिमा को पूजा स्थल पर रखें, उन्हें गंगा जल से स्नान कराएं फिर पंचामृत से भी स्नान कराएं। बाद में साफ पानी से भी स्नान जरूर करवाएं। आप हनुमानजी के समक्ष घी का दीपक जलाएं और उनकी प्रिय चीजें अर्पित करें। इस दौरान उन्हें पान का बीड़ा जरूर चढ़ाएं। बाद में उनकी आरती करें। पूजा समाप्त करने के बाद जीवन में सुख-शांति की प्राप्ति के लिए प्रार्थना करें।
हनुमान जी के मंत्र
भय नाश करने के लिए हनुमान मंत्र-हं हनुमंते नमः, स्वास्थ्य के लिए मंत्र, नासै रोग हरे सब पीरा, जपत निरंतर हनुमत बीरा, संकट दूर करने का मंत्र- ऊॅं नमो हनुमते रूद्रावताराय सर्वशत्रुसंहारणाय सर्वरोग हराय सर्ववशीकरणाय रामदूताय स्वाहा। कर्ज मुक्ति के मंत्र- ऊॅं नमो हनुमते आवेशाय आवेशाय स्वाहा। मनोकामना के लिए मंत्र- ऊॅं महाबलाय वीराय चिरंजिवीन उद्दते. हारिणे वज्र देहाय चोलंग्घितमहाव्यये। नमो हनुमते आवेशाय आवेशाय स्वाहा।। प्रेत भुत बाधा के लिए मंत्र- हनुमन्नंजनी सुनो वायुपुत्र महाबलः अकस्मादागतोत्पांत नाशयाशु नमोस्तुते।
वही क्षेत्र के भलेहटा गाव स्थित हनुमान गढ़ी में मंशा के सानिध्य से सैकड़ों भक्तों द्वारा हनुमान जी का पूजा पाठ किया गया। पूजा पाठ के दौरान प्रिंस सिंह, मोहित सिंह (दादा), राज त्रिपाठी, आशु चौरसिया, सूरज त्रिपाठी, अमन त्रिपाठी, पुजारी जी सैकड़ों भक्तो ने हनुमान चालिसा, बजरंगबाण, सुन्दर काण्ड का पाठ कर लोगों में प्रसाद वितरण किया। पूरे दिन भक्तों का ताता लगा रहा।

 

Sach ki Dastak

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x