मच्छर जनित रोगों के नियंत्रण पर मिला प्रशिक्षण

सच की दस्तक न्यूज डेस्क चन्दौली

जनपद में 19 दिसंबर से तीन जनवरी तक समस्त सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर आशा कार्यकर्ताओं को वेक्टर जनित बीमारियों जैसे मलेरिया, फाइलेरिया, डेंगू,चिकनगुनिया, जापानी इंसेफलाइटिस एवं कालाजार के नियंत्रण के लिए प्रशिक्षण दिया गया । इसमें लक्षण, कारण, बचाव के साथ अन्य जानकारी दी गईं। हर प्राथमिक व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर तीन बैच में 638 आशा कार्यकर्ता एवं 90 एएनएम को प्रशिक्षण दिया गया | यह जानकारी जिला मलेरिया अधिकारी पीके शुक्ला ने दी |

आशा कार्यकर्ता घर-घर जाकर रैपिड किट से करेंगी जाच 

​सहायक जिला मलेरिया अधिकारी राजीव सिंह ने बताया कि 19 दिसम्बर शुरू होकर 3 जनवरी तक जिले के सदर, नौगढ़, चकिया,साहबगंज, नियमताबाद, धानापुर, बरहनी और चहानियां पीएचसी सीएचसी पर प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया | इस प्रशिक्षण में आशाओं को मच्छर जनित बीमारियों से बचाव तथा रोकथाम के बारे में विस्तार से जानकारियां दी गईं तथा स्रोत विनष्टिकरण के महत्व पर जोर दिया गया | साथ ही ग्रामीण क्षेत्र में घर-घर जाकर रैपिड किट से मलेरिया की जांच किए जाने का प्रशिक्षण दिया गया जिसकी मदद सेआशा अपने क्षेत्र में मलेरिया की जांच कर तुरंत ही उपचार की व्यवस्था भी कर सकेंगी |

प्रशिक्षण प्राप्त कर पड़ावपुर ब्लॉक की आशा प्रमिला देवी ने बताया किइस प्रशिक्षिण बहुत कुछ सीखने को मिला | मच्छर जनित बीमारियों के बारे में सम्पूर्ण जानकारी मिली । रैपिड किट के प्रयोग करने के बारे भी बताया गया | किट के जरिये घर में मरीज को जांच कर उनकी स्थिति अनुसार इलाज के लिए नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र भेजने के बारे में बताया गया |

महमूदपुर ब्लॉक की आशा शीला देवी ने बताया कि क्षेत्र में वेक्टर जनित बीमारियों से लोगों को साफ सफाई, स्वच्छ पानी का प्रयोग के साथ ही घर के आसपास जल जमाव न होने एवं सोते समय मच्छरदानी का प्रयोग करने के लिए जागरूक करने और जांच कर तत्काल उपचार की सुविधा मुहैया करने को लेकर जानकारी दी गई

Sach ki Dastak

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x